scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

भारत में पहली बार नहीं फैंस का गुस्सा: ईडन गार्डन में सुनील गावस्कर के विरोध में लग रहे थे नारे, पारी न घोषित करते तो भड़क सकते थे दंगे

हार्दिक पंड्या को मुंबई इंडियंस का कप्तान बनाए जाने के कारण फैंस नाराज है।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Riya Kasana
नई दिल्ली | March 29, 2024 18:16 IST
भारत में पहली बार नहीं फैंस का गुस्सा  ईडन गार्डन में सुनील गावस्कर के विरोध में लग रहे थे नारे  पारी न घोषित करते तो भड़क सकते थे दंगे
सुनील गावस्कर भी हो चुके हैं ट्रोलिंग का शिकार
Advertisement

आईपीएल 2024 में मुंबई इंडियंस का अभियान शानदार नहीं रहा। टीम ने अब तक दो मैच खेले हैं और दोनों ही मुकाबलों में उन्हें हार मिली। इसके साथ-साथ टीम के कप्तान हार्दिक पंड्या को फैंस की नाराजगी भी झेलनी पड़ रही है। हार्दिक के खिलाफ नारे लग रहे हैं, हूटिंग हो रही है। मुंबई इंडियंस के मैच के दौरान केविन पीटरसन ने भी कहा था कि उन्हें याद नहीं कि भारत में भारतीय खिलाड़ी को कब इस तरह की नाराजगी का सामना करना पड़ा। हालांकि सुनील गावस्कर ने हार्दिक पंड्या का समर्थन किया था। वही सुनील गावस्कर जिन्हें 40 साल पहले खुद भारतीय फैंस के गुस्से का शिकार होकर न चाहते हुए भी पारी घोषित करनी पड़ी थी।

कपिल देव से नाराज थी सेलेक्शन समिति

यह वाकया 1984 का है जब इंग्लैंड की टीम भारत के दौरे पर आई थी। भारत ने पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 8 विकेट से हराया था। दिल्ली टेस्ट में भारत पांचवें दिन मैच को ड्रॉ कराने की स्थिति में था। कपिल देव लापरवाही भरा शॉट खेलकर आउट हो गए। इसके बाद टीम की पारी बिखर गई और भारत यह मैच हार गया। टीम सेलेक्शन कमेटी कपिल से काफी नाराज थी। उन्होंने फैसला किया कि वह कपिल को कोलकाता टेस्ट से बाहर कर देंगे। कप्तान सुनील गावस्कर भी इस कमेटी का हिस्सा थे।

Advertisement

ईडन गार्डन में गावस्कर के खिलाफ लगे थे नारे

कोलकाता टेस्ट की प्लेइंग इलेवन में कपिल देव का नाम नहीं था। यह पहली बार था जब कपिल को ड्रॉप किया गया था। फैंस इस बात से बहुत नाराज थे। उन्होंने कप्तान सुनील गावस्कर को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने स्टेडियम में गावस्कर के खिलाफ नारेबाजी करना शुरू कर दिया। फैंस 'NO KAPIL NO TEST', 'GAVASKAR GO BACK' के बड़े-बड़े बैनर लिए नजर आ रहे थे। मैदान पर इस कद्र हूटिंग हो रही थी कि इंग्लैंड के कप्तान एलन लैंब को आगे आकर फैंस ने हूटिंग न करने की अपील करनी पड़ी।

दंगों के डर से पारी की घोषित

यह सब यहीं पर नहीं रुका। टीम इंडिया की बल्लेबाजी के समय फैंस का गुस्सा चरम था। भारत ने 200 ओवर बल्लेबाजी की। मोहम्मद अजहरुद्दीन और रवि शास्त्री ने शतक जमाए। टीम और खेलना चाहती थी लेकिन चौथे दिन उन्हें पारी घोषित करनी पड़ी। पुलिस को कोलकाता के हालात देखकर दंगों के भड़कने का डर सता रहा था। यही कारण था कि उन्होंने भारतीय टीम से पारी घोषित करने की अपील की। नारों और नाराजगी के बीच 437/7 के स्कोर पर पारी घोषित की। यह मैच ड्रॉ रहा था। फैंस की नाराजगी दूर करने के लिए अगले मैच में कपिल को फिर से प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो