scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

राजस्थान और छत्तीसगढ़ सरकार ने केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मनसुख मंडाविया की तारीफ में पढ़े कसीदे

राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों ने यह भी कहा कि इन बैठकों को नियमित रूप से करके मंडाविया ने विपक्षी राज्यों को अपनी चुनौतियों को सीधे उनके सामने व्यक्त करने में मदद की है।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन | Edited By: संजय दुबे
Updated: August 17, 2022 10:48 IST
राजस्थान और छत्तीसगढ़ सरकार ने केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मनसुख मंडाविया की तारीफ में पढ़े कसीदे
केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, रसायन और उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने नई दिल्ली में मंगलवार, 16 अगस्त, 2022 को एक बैठक के दौरान हिंदुस्तान उर्वरक और रसायन लिमिटेड (HURL) - सिंदरी और बरौनी परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। (फोटो पीटीआई )
Advertisement

प्रधान मंत्री ने हाल ही में कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में सहकारी संघवाद के लिए राज्यों की सराहना की, और मंगलवार को विपक्षी दलों द्वारा शासित केंद्र और राज्यों के बीच एक महत्वपूर्ण समीक्षा बैठक के दौरान सहकारी संघवाद की भावना निश्चित रूप से प्रदर्शित हुई थी।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान पता चला है कि कांग्रेस शासित राजस्थान और छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्रियों ने टिप्पणी की कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया बिना किसी राजनीति के उनके साथ मिलकर काम कर रहे हैं। उन्होंने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि इन समीक्षा बैठकों को नियमित रूप से आयोजित करके, मंडाविया ने विपक्षी राज्यों को अपनी चुनौतियों को सीधे उनके सामने व्यक्त करने में मदद की है।

Advertisement

एहतियाती खुराक लेने वाले लोग अन्य लोगों से अधिक सुरक्षित

इस बीच दिल्ली में कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि कोविड रोधी टीकों की एहतियाती खुराक लेने वाले लोग अन्य लोगों से अधिक सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि दिल्लीवासियों को कोरोना वायरस से सुरक्षित रखने के लिए सरकार ने एहतियाती खुराक के टीकाकरण की गति बढ़ा दी है। सिसोदिया ने टीकाकरण को गति प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों तथा जिला मजिस्ट्रेट के साथ बैठक की।

आंकड़े साझा करते हुए उन्होंने कहा कि अस्पतालों में भर्ती कोरोना वायरस रोगियों की संख्या बताती है कि टीके की एहतियाती खुराक लेने वाले लोग अन्य लोगों से अधिक सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित रोगियों में 90 प्रतिशत वो हैं जिन्होंने टीके की केवल दो खुराक ली हैं।

उसी समय केवल 10 प्रतिशत लोग टीके की तीसरी खुराक लेने के बाद कोरोना संक्रमित हो गये। इससे स्पष्ट है कि टीके की एहतियाती खुराक लगवाने वाले लोग कोरोना संक्रमण से सुरक्षित हैं।

Advertisement

उधर, महाराष्ट्र में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 836 नए मामले दर्ज किए गए, जो एक दिन पहले की तुलना में 353 कम हैं, जबकि राज्य में संक्रमण के कारण दो और मरीजों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी।

Advertisement

विभाग ने एक बुलेटिन में कहा कि नए मामलों के साथ ही, राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 80,74,365 हो गए, जबकि मृतकों की संख्या 1,48,174 तक पहुंच गई। मुंबई में 332 नए मामले सामने आए। राज्य में मंगलवार को दोनों मरीजों की मौत भी मुंबई में हुई।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो