scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Top 10 companies in India: भारत की 10 सबसे बड़ी कंपनियां कौन सी हैं? जानें LIC, SBI, ITC, TCS किस नंबर पर, दो प्राइवेट बैंक भी लिस्ट में

Top 10 companies in India: क्या आपको पता है कि भारत 10 सबसे बड़ी कंपनियां कौन सी हैं? चेक करें पूरी लिस्ट...
Written by: Naina Gupta | Edited By: Naina Gupta
Updated: April 12, 2024 12:32 IST
top 10 companies in india  भारत की 10 सबसे बड़ी कंपनियां कौन सी हैं  जानें lic  sbi  itc  tcs किस नंबर पर  दो प्राइवेट बैंक भी लिस्ट में
Top 10 companies in India: जानें भारत की 10 सबसे बड़ी कंपनियां कौन सी हैं?
Advertisement

Top 10 companies in India: भारत दुनिया की सबसे तेजी से विकसित होती अर्थव्यवस्था है। दुनिया की कुछ सबसे महंगी कंपनियां भारत में ही हैं। टेक्नोलॉजी, फाइनेंस, कंज्यूमर गुड्स से लेकर टेलिकॉम सेक्टर तक में इन कंपनियों का परचम लहरा रहा है। भारत की इकोनॉमिक ग्रोथ में इन कंपनियों का बड़ा योगदान है।

आज हम आपको बता रहे हैं कि Forbes के मुताबिक, मार्केट वैल्यूएशन के हिसाब से देश की 10 सबसे बड़ी कंपनियां कौन सी हैं। साथ ही बताएंगे कि ये किस सेक्टर में काम कर रही हैं और इनका मार्केट कैपटलाइज़ेशन क्या है।

Advertisement

Market Valuation क्या है?
आपको बता दें कि किसी कंपनी के स्टॉक के सभी शेयरों की कुल वैल्यू से उसकी मार्केट वैल्यूएशन आंकी जाती है। किसी कंपनी की मार्केट वैल्यू को कैलकुलेट करने के लिए उसके मौजूदा एक शेयर की कीमत को उपलब्ध सभी शेयरों से गुणा किया जाता है। और आने वाला परिणाम कंपनी की वैल्यू दिखाता है।

  1. 1.रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries)
    देश की सबसे बड़ी कंपनी है जिसका मार्केट कैप सबसे ज्यादा है। इसके चेयरमैन और CEO मुकेश धीरूभाई अंबानी हैं जो देश के सबसे रईस शख्स भी हैं। 1958 में धीरूभाई अंबानी ने रिलायंस की शुरुआत की थी। यह कंपनी एनर्जी, पेट्रोकेमिकल्स, टेक्स्टाइल्स, नेचुरल रिसोर्सेज, रिटेल और टेलिकम्युनिकेशन जैसे विभिन्न सेक्टरों में कारोबार करती है। रिलायंस की जियो में टेक दिग्गज गूगल और मेटा जैसी कंपनियों ने निवेश किया है।
  1. 2.टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज {TATA Consultancy Services (TCS)}
    टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के मौजूदा सीईओ के. कृतिवासन हैं। इस कंपनी की शुरुआत 1968 में हुई थी। टीसीएस, टाटा ग्रुप की सब्सिडियरी कंपनी है जो इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी सेक्टर में काम करती है। यह कंपनी IT Services, कंसल्टिंग और बिजनेस सॉल्यूशंस प्रोवाइड कराती है। यही वजह है कि मार्केट कैप के हिसाब से यह देश की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है। आईटी सेक्टर में TCS का दबदबा है। टीसीएस ने ब्रिटेस में National Employment Savings Trust (NEST) के साथ पार्टनरशिप की है जो रिटायरमेंट के लिए क्लाइंट्स को प्लानिंग और बचत करने के लिए TCS ValueBPS™ का इस्तेमाल करती है। Marks & Spencer ने भी अपने बिजनेस ऑपरेशंस को बढ़ाने के लिए टीसीएस के साथ पार्टनरशिप की है।

टीसीएस को दुनियाभर में कई सारी मैराथन स्पॉन्सर करने के लिए भी जाना जाता है। लंदन, न्यू यॉर्क, बेंगलुरू, मुंबई और कोलकाता जैसे शहरों में होने वाली मैराथन को टीसीएस स्पॉन्सर करती है।

  1. 3.एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank)
    एचडीएफसी बैंक देश के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक में से एक है। इसके सीईओ शशिधर जगदीशन हैं। बैंक की स्थापना 1977 में हुई थी। HDFC Bank भारत में बहुत सारे फाइनेंशियल प्रोडक्ट्स और सर्विसेज ऑफर करती है। रिटेल और कॉरपोरेट बैंकिंग में इसकी बड़ी पैठ है। एचडीएफसी बैंक की मार्केट वैल्यूएशन से इसके मजबूत फाइनेंशनल परफॉर्मेंस और कस्टमर ट्रस्ट का पता चलता है। 1 जुलाई 2023 को बैंक का अपनी पेरेंट कंपनी HDFC Ltd. के साथ विलय हो गया था। मार्केट कैप के हिसाब से अब यह दुनिया का सातवां और भारत का सबसे बड़ा बैंक है।

4.आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank)
ICICI बैंक के सीईओ संदीप बख्शी हैं। इस बैंक की शुरुआत 1994 में हुई थी। भारत के सबसे बड़े प्राइवेट सेक्टर बैंक में से एक आईसीआईसीआई बैंक कॉरपोरेट और रिटेल बैंकिंग में अलग-अलग बैंकिंग प्रोडक्ट्स और फाइनेंशियल सर्विसेज ऑफर करता है।

Advertisement

2022 के आखिर में ICICI बैंक की पूर्व सीईओ चंदा कोचर पर अपने पद के गलत इस्तेमाल और निजी फायदे के लिए बैंक फंड को यूज करने का आरोप लगाया गया था। इसके बाद संदीप बख्शी ने बैंक के सीईओ पद की कमान संभाली और बहुत कम समय में ब्रैंड की छवि को दोबारा ठीक किया। इसके साथ बैंक की बैलेंस शीट और प्रॉफिट को भी तेजी से आगे बढ़ाया।

Advertisement

  1. 5.इन्फोसिस (Infosys)
    इन्फोससि के मौजूदा सीईओ सलिल पारेख हैं। कंपनीकी शुरुआत नारायण मूर्ति ने साल 1981 में की थी। इन्फोसिस एक ग्लोबल कंपनी है जो नेक्स्ट-जेनरेशन डिजिटल सर्विसेज और कंसल्टिंग ऑफर करती है। कंपनी 46 से ज्यादा देशों में क्लाइंट्स को डिजिटल ट्रांसफोर्मेशन में मदद करती है। इसकी मार्केट वैल्यूएशन से इनोवेटिव सॉल्यूशन और वर्ल्डवाइड प्रेजेंस की झलक मिलती है।

बता दें कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की पत्नी और इन्फोसिस के को-फाउंडर एनआर नारायण मूर्ति की बेटी अक्षरा मूर्ति का कंपनी में 0.9 प्रतिशत हिस्सा है। इन्फोसिस ने हाल ही में ग्लोबल एनर्जी कंपनी बीपी के साथ एंड-टू-एंड ऐप्लिकेशन सर्विसेज के लिए 1.5 बिलियन डॉलर की डील की है।

  1. 6.भारती एयरटेल (Bharti Airtel)
    भारती एयरटेल के मौजूदा सीईओ गोपाल वित्तल हैं। देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनियों में से एक एयरटेल की शुरुआत 1995 में हुई थी। एयरटेल एशिया और अफ्रीका के 18 देशों में टेलिकम्युनिकेशन सेक्टर में ऑपरेशन चलाती है। यह कंपनी मोबाइल वॉइस और डेटा सर्विसेज, फिक्स्ड लाइंस, हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड, IPTV, DTH और एंटरप्राइज सर्विसेज ऑफर करती है। भारती एयरटेल के मार्केट वैल्यूएशन से इसके मजबूत नेटवर्क और बड़े कस्टमर बेस का पता चलता है।

हाल ही में एयरटेल ने Google की पेरेंट कंपनी Alphabet के साथ साझेदारी की है ताकि लाइट बीम का इस्तेमाल करके लेजर टेक्नोलॉजी के जरिए देश के दूर-दराज ग्रामीण क्षेत्रों में हाई-स्पीड इंटरनेट पहुंचाया जा सके।

  1. 7.स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI)
    स्टेट बैंक ऑफ इंडिया देश का सबसे बड़ा पब्लिक सेक्टर बैंक है जिसकी शुरुआत 1955 में हुई थी। बैंक के मौजूदा सीईओ दिनेश कुमार खारा हैं।

एसबीआई पर्सनल बैंकिंग, एग्रीकल्चरल बैंकिंग, कॉरपोरेट बैंकिंग, इंटरनेशनल बैंकिंग और NRI सर्विसेज ऑफर करती है। मार्केट वैल्यूएशन से बैंक के बड़े और मजबूत नेटवर्क और विभिन्न सर्विसेज की झलक मिलती है। बता दें कि 19वीं सदी के पहले दशक में एसबीआई की शुरुआत Bank of Calcutta (बाद में Bank of Bengal) के तौर पर 1806 में हुई थी। 27 जनवरी, 1921 को Bank of Bombay और Bank Of Madras के साथ एक जॉइंट इकाई की शुरुआत हुई और इसे नाम दिया गया इंपीरियल बैंक ऑफ इंडिया। बाद में 1955 में State Bank of India Act के बाद आरबीआई को Imperial Bank of India का कंट्रोल मिला और 1 जुलाई 1955 को यह बन गया स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानी भारतीय स्टेट बैंक।

  1. 8.लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (LIC)
    लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) देश की सबसे बड़ी पब्लिक इंश्योरेंस कंपनी है। इसके मौजूदा सीईओ सिद्धार्थ मोहंती हैं। LIC की स्थापना 1956 में हुई थी। जनरल इंश्योरेंस के अलावा एलआईसी म्यूचुअल फंड्स, एसेट मैनेजमेंट, एक्सचेंज ट्रेड्स और इंडेक्स फंड्स में भी डील करती है।

बता दें कि भारत सरकार द्वारा LIC Act 1956 पास करने के बाद 245 प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियों का राष्ट्रीयकरण और मर्ज करने के बाद एलआईसी अस्तित्व में आई। देशभर में एलआईसी के 13.5 लाख एजेंट, 1580 सैटेलाइट ऑफिस, 2048 ब्रांच ऑफिस, 113 डिवीजनल ऑफिस, 8 ज़ोनल ऑफिस और एक सेंट्रल ऑफिस है। सरकार ने मई 2022 में LIC का आईपीओ भी लॉन्च किया था।

  1. 9.हिंदुस्तान यूनिलिवर (Hindustan Unilever)
    हिंदुस्तान यूनिलिवर के मौजूदा सीईओ रोहित जावा है। और इसकी शुरुआत 1933 में हुई थी। भारतीय कंज्यूमर गुड्स कंपनी, ब्रिटिश-डट कंपनी यूनिलिवर की सब्सिडियरी है। इस कंपनी के पोर्टफोलियो में क्लीनिंग एजेंट्स, वाटर प्यूरिफायर और पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स शामि हैं। हिंदुस्तान यूनिलिवर की मार्केट वैल्यूएशन से इसके मजबूत ब्रैंड पोर्टफोलियो और बड़े कंज्यूमर बेस का पता चलता है।

हिंदुस्तान यूनिलिवर के तहत लक्स, डव, लिप्टन, विम, किसान, ब्रू, क्लोजअप, क्लीनिक प्लस और पॉन्ड्स जैसे तमाम ब्रैंड आते हैं।

  1. 10.आईटीसी (ITC)
    आईटीसी के मौजूदा सीईओ संजीव पुरी हैं। ITC एक मल्टी-बिजनेस कंपनी है जिसकी शुरुआत 1910 में हुई थी। यह कंपनी FMCG, होटल, पेपरबोर्ड्स और पैकेजिंग, एग्रीकल्चर बिजनेस और इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी में कारोबार करती है। ITC की मार्केट वैल्यूएशन इसकी मजबूत ब्रैंड प्रेजेंस और विविध सेक्टर में ऑपरेशंस को दिखाता है।

सबसे पहले कंपनी Imperial Tobacco Company of India Limited के तौर पर अस्तित्व में आई थी। साल 1970 में इसका नाम बदलकर India Tobacco Company Limited हुआ और उसके बाद बनी ITC, जिसे आज Flama, Classmate, Sunfeast, Sunrise, Vivel, Savlon जैसे ब्रैंड्स के लिए जाना जाता है।

रैंक और कंपनीसेक्टरमार्केट कैप
1. Reliance Industries रिलायंस इंडस्ट्रीजऑइल एक्सप्लोरेशन एंड प्रोडक्शन, टेलिकॉम19.29 लाख करोड़ रुपये
2. TATA Consultancy Services (TCS) टीसीएसइन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजीज14.28 लाख करोड़ रुपये
3. HDFC Bank (एचडीएफसी बैंक)बैंकिंग11.01 लाख करोड़ रुपये
4. ICICI Bank (आईसीआईसीआई बैंक)बैंकिंग7.61 लाख करोड़ रुपये
5. Infosys (इन्फोसिस)इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजीज6.47 लाख करोड़ रुपये
6. Bharti Airtel (भारती एयरटेल)टेलिकम्युनिकेशंस6.94 लाख करोड़ रुपये
7. State Bank Of India (एसबीआई)बैंकिंग6.44 लाख करोड़ रुपये
8. LIC (एलआईसी)इंश्योरेंस5.55 लाख करोड़ रुपये
9. Hindustan Uniliver (हिंदुस्तान यूनिलिवर)कंज्यूमर गुड्स5.32 लाख करोड़ रुपये
10. ITC (आईटीसी)कंज्यूमर गुड्स5.11 लाख करोड़ रुपये
Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो