scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

पोस्‍ट ऑफिस की एक से बढ़कर एक स्मॉल सेविंग्स, लेकिन इन 5 स्‍कीम में नहीं मिलती 80C के तहत टैक्‍स छूट

Post Office Savings : पोस्ट ऑफिस में किए गए सभी निवेश टैक्स फ्री नहीं होते है. यानी उन स्कीम में निवेश करने से सेक्शन 80सी के तहत टैक्स छूट का फायदा नहीं मिलता है, भले ही उनमें ब्याज दरें आकर्षक हैं.
Written by: Sushil Tripathi
July 08, 2024 15:38 IST
पोस्‍ट ऑफिस की एक से बढ़कर एक स्मॉल सेविंग्स  लेकिन इन 5 स्‍कीम में नहीं मिलती 80c के तहत टैक्‍स छूट
Tax Benefit Under 80C : इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स बेनेफिट की बात आती है तो ध्यान स्मॉल सेविंग्स की ओर जाता है. (PTI)
Advertisement

Post Office Small Savings : टैक्स बचाने के लिए निवेश करने का कोई समय नहीं होता, बल्कि इसकी प्लानिंग आप किसी फाइनेंशियल ईयर में कभी भी कर सकते हैं. इससे अंतिम दिनों में निवेश की हड़बड़ी से आप बच जाते हैं. इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स बेनेफिट (Tax Benefit Under 80C) की बात आती है तो बहुत से लोगों का ध्यान स्मॉल सेविंग्स स्कीम की ओर जाता है. वैसे भी बहुत से लोग हैं, जो बाजार का रिस्क नहीं लेना चाहते और वे सुरक्षित विकल्प खोजते हैं. इसके लिए पोस्‍ट ऑफिस (Post Office) की स्मॉल सेविंग्स बेहतर विकल्प हैं. लेकिन पोस्ट ऑफिस में किए गए सभी निवेश टैक्स फ्री नहीं होते है. यानी उन स्कीम में निवेश से 80सी के तहत टैक्स छूट का फायदा नहीं मिलता है, भले ही उनमें ब्याज दरें आकर्षक हैं और आपका पैसा भी 100 फीसदी सुरक्षित है. हम ऐसी 5 स्कीम के बारे में आपको बता रहे हैं.

Advertisement

FD : फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट से आपको मिलेगा मैक्सिमम रिटर्न, बैंकों के हाई इंटरेस्‍ट रेट का ऐसे उठाएं फायदा

Advertisement

मंथली इनकम स्‍कीम (MIS)

पोस्ट ऑफिस की स्माल सेविंग्स स्‍कीम में शामिल मंथली इनकम स्कीम (POMIS) निवेशकों को मंथली इनकम का मौका देती है. MIS में आप एकमुश्‍त पैसे लगाकर हर महीने आमदनी कर सकते हैं. यहां आपका पूरा जमा सुरक्षित रहेगा और 5 साल बाद पूरी रकम वापस निकाल सकते हैं. इसमें सिंगल और ज्वॉइंट अकाउंट खोलने की सुविधा है. बहुत से लोग रिटायरमेंट के बाद इस स्कीम का फायदा पेंशन के लिए उठा रहे हैं. इसमें जमा रकम पर सालाना ब्याज को 12 हिस्सों में बांट दिया जाता है और फिर 12वां हिस्सा हर महीने अकाउंट में मंगाया जा सकता है.

ब्याज दर: 7.4% सालाना
मैच्‍योरिटी: 5 साल, फिर 5 साल के लिए उस समय के ब्याज पर नया अकाउंट खुल सकता है
कम से कम जमा : 1000 रुपये
अधिकतम जमा (सिंगल अकाउंट) : 9 लाख रुपये
अधिकतम जमा (ज्‍वॉइंट अकाउंट) : 15 लाख रुपये
टैक्‍स बेनेफिट : नहीं

नेशनल पेंशन सिस्‍टम : आपकी पेंशन में भी 100% से ज्‍यादा हो सकता है इजाफा, किस स्‍ट्रैटेजी से करें निवेश

Advertisement

किसान विकास पत्र (KVP)

किसानों के नाम पर शुरू की गई यह योजना खासतौर से ग्रामीण भारत के निवेशकों में बेहद पॉपुलर है. इस स्कीम में पैसे डबल होने की गारंटी होती है. यहां 115 महीनों यानी 9 साल और 7 महीनों में आपका पैसा डबल हो जाता है. इसमें सिंगल अकाउंट और 3 एडल्ट मिलकर ज्वॉइंट अकाउंट खोल सकते हैं. इसमें कम से कम 1000 रुपये के साथ अकाउंट खोल सकते हैं. अधिकतम निवेश की लिमिट नहीं है.

Advertisement

ब्याज दर: 7.5% सालाना
मैच्‍योरिटी: 115 महीने
अधिकतम जमा: लिमिट नहीं
मिनिमम जमा: 1000 रुपये
टैक्‍स लाभ: नहीं

रिकरिंग डिपॉजिट (RD)

पोस्‍ट ऑफिस की आरडी निवेया के लिए एक पॉपुलर स्कीम है. इसमें मंथली बेसिस पर छोटी छोटी रकम जमा कर भविष्य के लिए बड़ा फंड बनाने की सुविधा मिलती है. यह स्कीम भी एफडी की ही तरह है लेकिन सहूलियत यह है कि इसमें आपका पैसा एक साथ ब्लॉक नहीं होता है. हर महीने एक तय रकम निवेश करने की सुविधा मिलती है. हालांकि इसमें इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के तहत टैक्स छूट का लाभ नहीं मिलता है. बल्कि RD से होने वाली ब्याज आय 40,000 रुपये से ज्‍यादा है तो 10 फीसदी टीडीएस कटता है, वहीं सीनियर सिटीजन के यह लिमिट 50,000 रुपये है.

ब्याज दर: 6.7% सालाना
अधिकतम जमा: लिमिट नहीं
मिनिमम जमा: 100 रुपये मंथली
मैच्‍योरिटी: 5 साल, जिसे आगे 5 साल के लिए बढ़ा सकते हैं.
टैक्‍स बेनेफिट: नहीं

SIP का टारगेट पूरा हो गया या बीच रास्ते में है? सेंसेक्स के 80 हजार पहुंचने पर क्या करें निवेशक

टाइम डिपॉजिट (TD)

पोस्‍ट ऑफिस की टाइम डिपॉजिट में 1 साल, 2 साल, 3 साल और 5 साल के लिए जमा के विकल्प हैं. इनमें सिर्फ 5 साल की स्कीम पर ही टैक्स बेनेफिट मिलता है. यह स्कीम एक तरह से बैंक एफडी की ही तरह है.

1 साल की स्कीम पर ब्‍याज: 6.9% सालाना
2 साल की स्कीम पर ब्‍याज: 7.0% सालाना
3 साल की स्कीम पर ब्‍याज: 7.1% फीसदी सालाना
अधिकतम जमा: लिमिट नहीं
मिनिमम जमा: 1000 रुपये

टैक्‍स बेनेफिट: 1 साल, 2 साल और 3 साल की टाइम डिपॉजिट स्कीम पर टैक्स लाभ नहीं मिलता है. हालांकि 5 साल की स्कीम पर जिसमें 7.5% फीसदी सालाना ब्याज मिल रहा है, इस पर 80सी के तहत छूट मिलती है.

स्मार्ट इन्वेस्टर्स हैं तो बचत खाते की जगह स्वीप-इन एफडी का करें इस्तेमाल, जब जरूरत निकालें पैसा, रिटर्न भी ज्यादा

महिला सम्मान सेविंग्स सर्टिफिकेट

सरकार ने महिलाओं और लड़कियों को वित्तीय सुरक्षा देने के लिए इस योजना की शुरूआत की. महिला निवेशकों के लिए यह एक बेहद सुरक्षित विकल्प है. इस स्कीम पर सरकार 5 साल अवधि वाली एफडी के समान ब्याज ऑफर कर रही है. इस योजना के तहत कोई महिला अपनी ओर से या किसी नाबालिग बच्ची की ओर से बतौर अभिभावक अकाउंट खुलवा सकती है. इस खाते में कोई भी अकाउंटहोल्डर 1000 रुपये से लेकर 2,00,000 रुपये तक सालाना जमा कर सकता है.

ब्याज दर: 7.5% सालाना
मैच्‍योरिटी: 2 साल
अधिकतम जमा: लिमिट नहीं
मिनिमम जमा: 1000 रुपये
टैक्‍स बेनेफिट: नहीं

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो