scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Interim Budget 2024: इस बार क्या महंगा और क्या सस्ता होगा? पिछले साल की बजट लिस्ट पर डालें एक नजर

Interim Budget 2024: पिछले साल सीतारमण ने सोने से बनी वस्तुओं पर मूल सीमा शुल्क में बढ़ोतरी के साथ-साथ इलेक्ट्रिक रसोई चिमनी पर मूल सीमा शुल्क में बढ़ोतरी की घोषणा की थी।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: February 01, 2024 09:04 IST
interim budget 2024  इस बार क्या महंगा और क्या सस्ता होगा  पिछले साल की बजट लिस्ट पर डालें एक नजर
Interim Budget 2024: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण। (फोटो सोर्स: ANI)
Advertisement

Interim Budget 2024: देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज सुबह 11 बजे संसद में अंतरिम बजट 2024 पेश करने वाली हैं। बजट को लेकर आम आदमी में काफी उम्मीदें हैं। प्रत्येक बजट विभिन्न वस्तुओं और सेवाओं की लागत में बदलाव लाता है। लोग यह देखने के लिए उत्सुक रहते हैं कि किन वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि हो सकती है और कौन सी वस्तुओं में गिरावट देखने को मिलेगी। या फिर किन वस्तुओं की कीमतों में कोई बदलवा नहीं होगा।

हालांकि, आम लोग अंतरिम बजट का इंतजार कर रहे हैं। इसी बीच आइए हम कुछ चीजों पर नजर डालें जो पिछले साल के बजट के बाद या तो ज्यादा महंगी हो गई या सस्ती हुईं। जिसने लोगों के चेहरे पर खुशी ला दी।

Advertisement

यूनियन बजट 2023-24 की घोषणाएं-

पिछले साल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कस्टम ड्यूटी दरों में बदलाव की घोषणा की थी, जिसका असर विभिन्न वस्तुओं की कीमतों पर पड़ा था।
सीतारमण ने सोने से बनी वस्तुओं पर मूल सीमा शुल्क में बढ़ोतरी के साथ-साथ इलेक्ट्रिक रसोई चिमनी पर मूल सीमा शुल्क में बढ़ोतरी की घोषणा की थी। सिगरेट पर टैक्स 16% बढ़ाया गया था। इस बीच, एपिक्लोरोहाइड्रिन के उत्पादन के लिए कच्चे ग्लिसरीन पर सीमा शुल्क 7.5% से घटाकर 2.5% कर दिया गया था।

सरकार ने पूंजीगत वस्तुओं और मशीनरी के आयात पर सीमा शुल्क छूट के विस्तार की भी घोषणा की, जो इलेक्ट्रानिक वाहन (ईवी) में उपयोग की जाने वाली बैटरी के लिए लिथियम-आयन सेल बनाने के लिए आवश्यक हैं।

Advertisement

वित्त मंत्री ने मोबाइल फोन विनिर्माण में इस्तेमाल होने वाले स्पेसफिक इनपुट के आयात (Import) पर सीमा शुल्क में कटौती की घोषणा की। इसके अतिरिक्त, टीवी पैनल के लिए ओपन सेल के घटकों पर सीमा शुल्क घटाकर 2.5% कर दिया गया।

Advertisement

लैब ग्रोन डायमंड के उत्पादन में उपयोग किए जाने वाले सीड्स पर मूल सीमा शुल्क में कमी देखी गई। चांदी के डोर, बार और वस्तुओं पर आयात शुल्क बढ़ाकर उन्हें सोने और प्लैटिनम के अनुरूप लाया गया। मिश्रित रबर पर मूल सीमा शुल्क दर में वृद्धि हुई।

क्या हुआ महंगा?

कुछ वस्तुएं जो महंगी हुईं वे इस प्रकार हैं।

इमीटेशन ज्वेलरी

चांदी के दरवाजे, सलाखें और वस्तुएं

साइकिल

इलेक्ट्रिक किचन समरी

मिश्रित रबर

आयातित वाहन और ईवी

सोने और प्लैटिनम से बनी वस्तुएं

क्या हुआ सस्ता?

कुछ वस्तुएं जो सस्ती हुईं, उनकी लिस्ट नीचे दी गई है।

टेलीविजन

स्मार्टफोन्स

लैब में विकसित हीरे

मोबाइल फोन के लिए लिथियम-आयन बैटरी

ईवी में लिथियम आयन सेल बनाने की मशीनरी

कैमरा लेंस

झींगा खाना (Shrimp Feed)

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो