scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

FASTag यूजर्स के लिए बड़ी खबर! 31 जनवरी के बाद बंद हो जाएगा अकाउंट, जल्दी पूरी कर लें अधूरी KYC

FASTags without KYC link to be deactivated after Jan 31: NHAI ने कहा है कि 31 जनवरी के बाद अधूरी KYC वाले फास्टैग बंद हो जाएंगे।
Written by: बिजनेस डेस्क | Edited By: Naina Gupta
Updated: January 15, 2024 16:32 IST
fastag यूजर्स के लिए बड़ी खबर  31 जनवरी के बाद बंद हो जाएगा अकाउंट  जल्दी पूरी कर लें अधूरी kyc
अधूरी KYC वाले फास्टैग 31 जनवरी के बाद होंगे ब्लॉक
Advertisement

अगर आप भी अकसर कार से ट्रैवल करते रहते हैं और Fastag का इस्तेमाल करते हैं तो अलर्ट हो जाएं। फास्टैग इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के लिए जरूरी खबर है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने सोमवार (15 जनवरी 2024) को कहा कि खाते में राशि होने के बावजूद अधूरे KYC(Know Your Customer) वाले फास्टैग 31 जनवरी के बाद इनएक्टिव कर दिए जाएंगे। जी हां, अगर आपने अपने फास्टैग की KYC को पूरा नहीं किया है तो जल्दी इसे पूरा कर लें नहीं तो आपको टोल प्लाजा पर भविष्य में यात्रा के दौरान परेशानी हो सकती है।

इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली की दक्षता बढ़ाने और टोल प्लाजा पर वाहनों की निर्बाध आवाजाही को संभव बनाने के लिए एनएचएआई ने ‘एक वाहन, एक फास्टैग’ पहल लागू की है। इसका उद्देश्य कई वाहनों के लिए एक ही फास्टैग के इस्तेमाल या एक विशेष वाहन के लिए कई फास्टैग जोड़ने को बंद करना है।

Advertisement

लेटेस्ट FASTag की KYC करें कंपलीट

सार्वजनिक क्षेत्र के निकाय NHAI ने बयान में कहा कि फास्टैग का इस्तेमाल करने वाले वाहन चालकों को रिजर्व बैंक के दिशानिर्देशों के अनुरूप अपने फास्टैग की केवाईसी (KYC) प्रक्रिया पूरा करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। बयान के मुताबिक, किसी भी तरह की असुविधा से बचने के लिए यूजर्स को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके नवीनतम फास्टैग का केवाईसी पूरा हो गया है।

इसके साथ ही यूजर्स को ‘एक वाहन, एक फास्टैग’ का भी पालन करना होगा और अपने बैंकों के जरिए से पहले जारी किए गए सभी फास्टैग को हटाना होगा। NHAI ने कहा, ‘‘केवल सबसे लेटेस्ट फास्टैग खाता ही एक्टिव रहेगा क्योंकि पिछले फास्टैग 31 जनवरी, 2024 के बाद डीएक्टिवेट या ब्लॉक लिस्ट कर दिए जाएंगे।’’

Advertisement

इस संबंध में किसी तरह की सहायता या जानकारी के लिए फास्टैग यूजर्स अपने नजदीकी टोल प्लाजा या संबंधित जारीकर्ता बैंकों के टोल-फ्री ग्राहक सेवा नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। NHAI ने यह कदम एक वाहन के लिए कई फास्टैग जारी किए जाने और आरबीआई (RBI) के आदेश का उल्लंघन करते हुए केवाईसी के बिना फास्टैग जारी किए जाने की हालिया रिपोर्टों के बाद उठाया है। देशभर में आठ करोड़ से अधिक वाहन चालक फास्टैग का इस्तेमाल कर रहे हैं जो कुल वाहनों का लगभग 98 प्रतिशत है। इस व्यवस्था ने देश में इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली की रफ्तार काफी तेज कर दी है।

एजेंसी इनपुट के साथ

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो