scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Budget 2024: टैक्स बचाने के लिए कहां करें निवेश? ये योजनाएं आपके लिए हो सकती हैं फायदेमंद

देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आने वाले 1 फरवरी को बजट पेश करेंगी। बजट से टैक्सपेयर्स को बहुत उम्मीदें हैं। आम आदमी टैक्स बचाने के लिए निवेश के अलग-अलग रास्ते देखता है। चालू वित्त वर्ष के लिए टैक्स बचाने का यह आखिरी मौका है क्योंकि वेतनभोगी व्यक्तियों को अपने एचआर डिपार्टमेंट में निवेश प्रमाण जमा करना जरूरी है नहीं तो उनकी सैलरी से टैक्स कटना शुरू हो जाएगा।
Written by: बिजनेस डेस्क | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: January 11, 2024 16:41 IST
budget 2024  टैक्स बचाने के लिए कहां करें निवेश  ये योजनाएं आपके लिए हो सकती हैं फायदेमंद
बजट से टैक्सपेयर्स को बहुत उम्मीदें हैं। (FREEPIK PHOTO)
Advertisement

देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आने वाले 1 फरवरी को बजट पेश करेंगी। बजट से टैक्सपेयर्स को बहुत उम्मीदें हैं। आम आदमी टैक्स बचाने के लिए निवेश के अलग-अलग रास्ते देखता है। चालू वित्त वर्ष के लिए टैक्स बचाने का यह आखिरी मौका है क्योंकि वेतनभोगी व्यक्तियों को अपने एचआर डिपार्टमेंट में निवेश प्रमाण जमा करना जरूरी है नहीं तो उनकी सैलरी से टैक्स कटना शुरू हो जाएगा।

हालांकि इससे पहले आप यह जान लें कि चालू वर्ष 2024 के दौरान टैक्स बचाने के लिए कितना और कहां निवेश करना है। इसके लिए आपको पुरानी और नई टैक्स व्यवस्था पर ध्यान देना होगा। यदि नई टैक्स व्यवस्था आपके लिए फायदेमंद है, तो आपको कोई निवेश करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इस व्यवस्था के तहत धारा 80C और 80CCD के तहत कटौती उपलब्ध नहीं है।

Advertisement

टैक्स और निवेश विशेषज्ञ बलवंत जैन ने सुझाव देते हुए कहा, "आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कटौती का दावा करने के लिए कई उत्पाद उपलब्ध हैं, इसलिए किसी विशेष स्कीम में निवेश करने का निर्णय विभिन्न कारणों पर निर्भर करेगा। यदि आप युवा हैं और जोखिम लेने की क्षमता रखते हैं, तो ईएलएसएस (इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम) सबसे अच्छी स्कीम है क्योंकि यह आपको सबसे अच्छा रिटर्न दे सकता है। हालांकि ईएलएसएस की लॉक-इन अवधि केवल तीन साल है। इसलिए इस स्कीम को चुनते समय भविष्य में धन की आवश्यकता का भी मूल्यांकन किया जाना चाहिए।"

जो लोग कोई जोखिम लेने को तैयार नहीं हैं, वे ऐसे किसी भी स्कीम को चुन सकते हैं जो निवेश की पूरी अवधि के लिए निश्चित ब्याज दर प्रदान करता है जैसे राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC), वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) और एफडी है।

Advertisement

बलवंत जैन ने कहा, "जो लोग हाई टैक्स स्लैब के अंतर्गत आते हैं और लंबी अवधि के लिए अपने पैसे को लॉक करने के इच्छुक हैं, वे सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) का विकल्प चुन सकते हैं, जो पूरी तरह से टैक्स फ्री है। यदि आप वेतनभोगी हैं तो आप स्वेच्छा से अपने भविष्य निधि में अधिक योगदान करने का निर्णय ले सकते हैं क्योंकि यह बिना किसी जोखिम के हाई रिटर्न दे सकता है।

Advertisement

फाइनेंसियल विशेषज्ञों के अनुसार ईएलएसएस, पीपीएफ, एनएससी और एफडी जैसे निवेश टैक्स को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हालांकि यह सलाह दी जाती है कि ऐसे रास्ते तलाशने चाहिए जो धन को बढ़ाने में योगदान दें।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो