scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Budget 2024: दूध का प्रोडक्शन बढ़ेगा, किसान की इनकम में भी होगा इजाफा, जानिए वित्त मंत्री ने बजट में क्या कहा

Budget 2024 Milk Dairy Production: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा उत्पादक है, लेकिन इसके बावजूद दूध की प्रोडक्शन की कमी है।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: February 01, 2024 12:49 IST
budget 2024  दूध का प्रोडक्शन बढ़ेगा  किसान की इनकम में भी होगा इजाफा  जानिए वित्त मंत्री ने बजट में क्या कहा
Budget 2024 Milk Dairy Production: बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मिल्क डेयरी प्रोडेक्शन को बढ़ावा देने की बात कही। (ANI)
Advertisement

Budget 2024: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2024 लोकसभा चुनाव से पहले अंतरिम बजट पेश किया, जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल का अंतिम बजट है। इस दौरान वित्त मंत्री ने रेलवे, शिक्षा समेत कई बड़ी बातों का जिक्र किया। साथ ही सीतारमण ने देश में दूध और डेयरी उत्पादन बढ़ाने की योजना की घोषणा की।

वित्त मंत्री ने कहा, भारत दुनिया में सबसे बड़ा दूध उत्पादक है, लेकिन दूध की उत्पादकता कम है। उन्होंने कहा कि भारत का दूध उत्पादन 2022-23 में 4 प्रतिशत बढ़कर 230.58 मिलियन टन हो गया। उन्होंने यह भी कहा कि तिलहन उत्पादन के लिए आत्मनिर्भरता के लिए एक रणनीति विकसित की जाएगी। मंत्री ने कहा कि कृषि क्षेत्र में मूल्यवर्धन और किसानों की आय बढ़ाने के प्रयास तेज किए जाएंगे।

Advertisement

इससे पहले फरवरी, 2023 में खाद्य और कृषि संगठन कॉरपोरेट स्टैटिस्टिकल डेटाबेस (FAOSTAT) के आंकड़ों के अनुसार, भारत वर्ष 2021-22 में वैश्विक दूध उत्पादन में चौबीस प्रतिशत योगदान देकर दुनिया में सबसे अधिक दूध उत्पादक यानी पहले स्थान पर है।

सरकार के मुताबिक, भारत के दूध उत्पादन में पिछले आठ वर्षों यानी वर्ष 2014-15 और 2021-22 के दौरान 51 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है और वर्ष 2021-22 में यह बढ़कर 22 करोड़ टन हो गया है। यह जानकारी केंद्रीय मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री परषोत्तम रूपाला ने 7 फरवरी, 2023 को लोकसभा में एक लिखित उत्तर में दी थी।

Advertisement

मंत्री ने यह भी कहा था कि पशुपालन और डेयरी विभाग डेयरी क्षेत्र के आर्थिक रूप से कमजोर किसानों सहित किसान सदस्यों को लाभ पहुंचाने के लिए विभिन्न योजनाएं चलाता है। इसके अलावा, राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम का उद्देश्य दूध, दूध उत्पादों की गुणवत्ता बढ़ाना और संगठित खरीद, प्रसंस्करण, मूल्य संवर्धन और विपणन की हिस्सेदारी बढ़ाना है।

एनपीडीडी को तीन मौजूदा योजनाओं - गहन डेयरी विकास कार्यक्रम, गुणवत्ता और स्वच्छ दूध उत्पादन के लिए बुनियादी ढांचे को मजबूत करना और सहकारी समितियों को विलय करके फरवरी 2014 में लॉन्च किया गया था।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो