scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'हमारी इच्छा है नरेंद्र मोदी फिर से मुख्यमंत्री बनें', नीतीश कुमार की फिसली जुबान

नीतीश कुमार ने इस दौरान आरजेडी पर निशाना साधा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन लोगों ने कोई काम नहीं किया। 2005 से पहले शाम को डर की वजह से कोई घर से निकलने की हिम्मत नहीं करता था।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: May 26, 2024 23:42 IST
 हमारी इच्छा है नरेंद्र मोदी फिर से मुख्यमंत्री बनें   नीतीश कुमार की फिसली जुबान
नीतीश कुमार। फोटो -(इंडियन एक्सप्रेस)।
Advertisement

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र के दनियावां में एक जनसभा को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान जदयू अध्यक्ष की जुबान फिसल गई। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि बिहार की सभी 40 सीटों और देशभर में 400 से ज्यादा सीट जीतें। और नरेंद्र मोदी फिर से मुख्यमंत्री बनें। ताकि देश का विकास हो, बिहार का विकास हो। नीतीश ने कहा कि नरेंद्र मोदी तो प्रधानमंत्री हैं ही और आगे भी रहेंगे।

नीतीश कुमार ने इस दौरान आरजेडी पर निशाना साधा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन लोगों ने कोई काम नहीं किया। 2005 से पहले शाम को डर की वजह से कोई घर से निकलने की हिम्मत नहीं करता था। काफी झगड़े होते थे, स्वास्थ्य और शिक्षा बदहाल थी। सड़कों की हालत जर्जर थी। उन्होंने कहा कि जब मैं सांसद था, तब कुछ ही जगहों पर सड़कें थी। बाकी सब जगह पैदल जाना पड़ता था। सीएम ने कहा कि उन लोगों (आरजेडी) को मौका मिला, लेकिन कोई काम नहीं किया।

Advertisement

बिहार के मुख्यमंत्री ने लालू की पार्टी की हमलावर होते हुए कहा कि वे लोग आज हमारे खिलाफ हो गए हैं तो बोलते हैं कि हमने कोई काम नहीं किया, जबकि ये पूरी तरह झूठ है। सीएम नीतीश ने लालू का नाम लिए बिना कहा कि एक आदमी ने 9 बेटा-बेटी पैदा किए। अब बेटा-बेटी ही करते रहते हैं। जब हम उनके साथ आए तो देखा कि ये गड़बड़ करते हैं।

तेजस्वी यादव ने क्या कहा?

वहीं बिहार के रोहतास जिला के बिक्रमगंज इंटर स्तरीय कॉलेज मैदान में तेजस्वी यादव ने हुंकार भरी। अपनी सेहत का हवाला देते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि धमकियों से बिहार नहीं डरता। डटकर मुकाबला करना हम बिहारी जानते हैं। काराकाट लोकसभा सीट से महागठबंधन के माले प्रत्याशी राजाराम सिंह के पक्ष में वोट मांगते हुए तेजस्वी यादव कहा कि यह बिहार के अस्मिता की लड़ाई है। प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार के साथ हमेशा ही सौतेला व्यवहार किया है। बिहार के हित में जब-जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राष्ट्रीय जनता दल के साथ हुए हैं, तब तब भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें भ्रमित करने का काम किया है। रोजगार, स्वास्थ्य, सड़क, कृषि एवं हवाई अड्डे जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे पर बिहार को एनडीए की सरकार ने भेदभाव किया है।

Advertisement

तेजस्वी यादव ने स्वयं के कार्यकाल में बिहार के युवाओं के लिए विभिन्न विभागों में सृजित किए गए रोजगार, अस्पतालों की सुदृढ़ व्यवस्था और शिक्षा के क्षेत्र में किए गए मूलभूत परिवर्तन का भी जिक्र किया। तेजस्वी यादव ने महागठबंधन को मजबूत करने का आह्वान करते हुए काराकाट लोक सभा क्षेत्र में माले प्रत्याशी राजाराम सिंह कुशवाहा की जीत सुनिश्चित करने के लिए लोगों से अपील की।

Advertisement

वहीं वीआईपी पार्टी सुप्रीमो मुकेश सहनी ने अपने संबोधन से युवाओं में जोश भरते हुए कहा कि अगर बीजेपी की सरकार बनी तो इस बार संविधान और आरक्षण खत्म कर दिया जाएगा। इसके अलावा भी महागठबंधन के कई स्थानीय नेताओं सहित जिला और प्रदेश स्तर के नेताओं ने सभा को संबोधित करते हुए राजाराम सिंह कुशवाहा के पक्ष में मतदान करने की अपील की।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो