scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

बेटिकट यात्रियों से पूर्व रेलवे ने सात माह में वसूले तकरीबन 54 करोड़ रुपये

पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कौशिक मित्रा ने बुधवार को बताया कि 9 लाख 85 हजार 351 बेटिकट यात्रियों से सात माह में 53 करोड़ 93 लाख 16 हजार 268 रुपये बतौर जुर्माना वसूला गया।
Written by: गिरधारी लाल जोशी | Edited By: Bishwa Nath Jha
Updated: November 23, 2023 11:42 IST
बेटिकट यात्रियों से पूर्व रेलवे ने सात माह में वसूले तकरीबन 54 करोड़ रुपये
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर। फोटो- (इंडियन एक्‍सप्रेस)।
Advertisement

बेटिकट यात्रियों से जुर्माना के तौर पर पूर्व रेलवे ने बीते सात माह में करोड़ों रुपये की आमदनी की है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कौशिक मित्रा ने बुधवार को बताया कि 9 लाख 85 हजार 351 बेटिकट यात्रियों से 53 करोड़ 93 लाख 16 हजार 268 रुपये बतौर जुर्माना वसूला गया।

यह उपलब्धि इस साल एक अप्रैल से 31 अक्‍टूबर तक की है। उनके मुताबिक पूर्व रेलवे के विभिन्न स्टेशनों पर बेटिकट यात्रियों को चेकिंग करने के लिए अधिकारी व कर्मचारी तैनात हैं। जो समय-समय पर टिकटों की जांच कर बेटिकट मुसाफिरों से जुर्माना की वसुली करते हैं। इससे पहले मंगलवार को पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक अमर प्रकाश द्विवेदी ने भागलपुर-जमालपुर रेल खंड के तहत आने वाले स्टेशनों का निरीक्षण किया।

Advertisement

इस दौरान उन्होंने यात्रियों से जुड़ी सुरक्षा संबंधी जानकारी ली। रेलवे की अचल संपत्तियों और सुधार संबंधी संभावनाओं से वाकिफ हुए। साथ ही अमृत भारत के तहत स्टेशनों के जीर्णोद्धार योजना के तहत इस खंड के विभिन्न स्टेशनों के पुनर्विकास के काम की प्रगति का मुआयना किया। मगर रेल खंड पर पड़ने वाले स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं की शिकायतों का भी उन्हें सामना करना पड़ा।

दौरे में उनके साथ प्रधान मुख्य सिग्नल एवं दूरसंचार इंजीनियर अशोक महेश्वरी, प्रधान मुख्य विद्युत इंजीनियर वीरभद्र विश्वकर्मा, प्रधान मुख्य इंजीनियर अरुण कुमार चौधरी, प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक रामधन मीणा और मंडल रेल प्रबंधक विकास चौबे समेत मालदा रेलवे मंडल के अन्य शाखा अधिकारी भी मौजूद थे।

Advertisement

महाप्रबंधक द्विवेदी ने क्युल जाने से पहले पड़ने वाले स्टेशन धनौरी रेलवे स्टेशन का व्यापक निरीक्षण किया। इस दौरान वहां के स्टेशन की बुनियादी ढांचे और सुविधाओं की बारीकी से जांच की साथ ही स्थानीय नागरिकों से बातचीत की। लोगों ने यात्री सुविधाओं जैसे पीने का शुद्ध पानी, शौचालय, सूचना केंद्र, डिस्प्ले बोर्ड, ट्रेनों के ठहराव न होने की शिकायत की। जिसे महाप्रबंधक ने गम्भीरता से सुना। निरीक्षण के दौरान मार्ग में आने वाले स्टेशनों की साफ-सफाई और स्वच्छता, ट्रेन की सवारी गुणवत्ता समेत परिचालन संबंधी कार्यों का उन्होंने अवलोकन किया।

Advertisement

जमालपुर स्टेशन पर निरीक्षण के दौरान पूर्व रेलवे के महाप्रबंधक अमर प्रकाश द्विवेदी की उपस्थिति में जमालपुर रेलवे स्टेशन पर क्रांतिकारी 'सचेत-ट्रेनर' और 'मार्गदर्शक' ऐप का प्रदर्शन किया गया। जिसे यात्री अनुभव को बदलने की क्षमता के लिए 'मार्गदर्शक' ऐप की सराहना की। और अपने उपयोगकर्ताओं के लाभ के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने की पूर्व रेलवे की प्रतिबद्धता पर जोर दिया। उन्होंने कहा, "ये एप्लिकेशन परिचालन दक्षता और यात्री संतुष्टि दोनों को बढ़ाने के लिए अत्याधुनिक तकनीकों को अपनाने के लिए पूर्व रेलवे के समर्पण को रेखांकित करते हैं।"

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो