scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Uttarakhand Polls 2022: हमने तो सबूत नहीं मांगा कि आप किसकी संतान हो- सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल को लेकर राहुल गांधी पर बरसे असम CM

Uttarakhand Polls 2022: सरमा आगे बोले कि आपको भारतीय सेना से सबूत मांगने का अधिकार किसने दिया है?
Written by: Abhishek Gupta | Edited By: अभिषेक गुप्ता
Updated: February 11, 2022 19:59 IST
uttarakhand polls 2022  हमने तो सबूत नहीं मांगा कि आप किसकी संतान हो  सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल को लेकर राहुल गांधी पर बरसे असम cm
असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः अमित मेहरा)
Advertisement

Uttarakhand Polls 2022: असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने सर्जिकल स्ट्राइक (साल 2016 में) को लेकर सवाल उठाने के लिए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है। शुक्रवार (11 फरवरी, 2022) को उन्होंने उत्तराखंड में एक चुनावी सभा में कांग्रेस नेता पर कई विवादित टिप्पणियां कीं।

सरमा बोले- राहुल, जनरल बिपिन रावत के नेतृत्व वाली सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत चाहते थे। क्या हमने कभी इस बात का सबूत मांगा कि आप किनके बेटे हैं? आपको सेना से सबूत मांगने का अधिकार किसने दिया? अगर हमारे सैनिकों ने कहा है कि उन्होंने पाकिस्तान के भीतर हमला किया है तो यह अंतिम है।

Advertisement

बकौल सरमा, "अगर हमारे सैनिकों ने कहा है कि उन्होंने पाकिस्तान में हमला किया है, तो ऐसा तय है। क्या आप बिपिन रावत या सैनिकों पर विश्वास नहीं करते हैं? क्या हमने कभी पूछा है कि क्या आप वास्तव में राजीव गांधी के बेटे हैं या नहीं? ऐसे में सैनिकों का अपमान मत करो।"

बता दें कि साल 2016 में सेना ने उरी में एक आतंकी हमले (19 सैनिक शहीद हुए थे) के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करने के लिए नियंत्रण रेखा के पार एक सर्जिकल स्ट्राइक की थी। कई विपक्षी नेताओं ने तब इस ऑपरेशन पर सवाल उठाया था। राहुल पर जुबानी वार करने वाले सरमा कभी खुद कांग्रेस हुआ करते थे। कांग्रेस छोड़ वह साल 2015 में भाजपाई बन गए थे।

हिजाब विवाद पर बोले सरमा- स्कूल पढ़ाई के लिए हैं न कि फैशन शो के लिए

Advertisement

सरमा ने इसके अलावा कर्नाटक में हिजाब विवाद को लेकर भी राय जाहिर की। बोले, "कॉलेज और स्कूल पढ़ाई के लिए हैं न कि फैशन शो के लिए। हमें कोई समस्या नहीं है कि कोई क्या पहनना चाहता है। लेकिन स्कूलों और कॉलेजों में वे हिजाब पहनना चाहते हैं… कल हिंदू कहेंगे कि हम एक विशेष पोशाक पहनना चाहते हैं। फिर ईसाई कहेंगे कि हम भी एक खास परिधान पहनना चाहते हैं।"

Advertisement

'तकनीकी संस्थानों को बदलने के लिए Tata Group को हर संभव मदद देंगे'

वहीं, सीएम सरमा ने टाटा ग्रुप को बड़ा आश्वासन दिया है। कहा है कि असम के तकनीकी संस्थानों को प्रौद्योगिकी केंद्रों में बदलने की उसकी परियोजना ‘ट्रांसफॉर्मिंग इंजीनियरिंग एकेडेमिया टू इंडस्ट्री 4.0’ के लिए राज्य सरकार हर जरूरी मदद मुहैया कराएगी। ग्रुप के सीनियर अफसरों के साथ गुरुवार को गुवाहाटी में एक मीटिंग में राज्य के आईटीआई और पॉलिटेक्निक संस्थानों का ‘उत्कृष्टता केंद्र’ के रूप में अपडेट करने के मामले पर सीएम बोले कि राज्य के सभी 75 तकनीकी संस्थानों में अत्याधुनिक पाठ्यक्रम लाने के लिए राज्य सरकार हर जरूरी मदद देगी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो