scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गुजरात सरकार को खटक रही आसाराम की पत्नी और बेटी समेत छह लोगों की रिहाई, फैसले को देने जा रही चुनौती

स्पेशल पब्लिक प्रासीक्यूटर आरसी कोडेकर ने बताया कि 6 मई को लीगल डिपार्टमेंट ने एक प्रस्ताव पास करके कहा था कि फैसले के खिलाफ अपील की जाए।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: शैलेंद्र गौतम
June 01, 2023 18:48 IST
गुजरात सरकार को खटक रही आसाराम की पत्नी और बेटी समेत छह लोगों की रिहाई  फैसले को देने जा रही चुनौती
आसाराम बापू: पुलिस की गाड़ी से बाहर आते आसाराम बापू। (फोटो- पीटीआई)
Advertisement

अपनी ही शिष्या से बलात्कार के मामले के सजायाफ्ता संत आसाराम के पत्नी और बेटी की रिहाई गुजरात सरकार को रास नहीं आ रही है। सरकार इस फैसले को चुनौती देने जा रही है। सरकार को कहना है कि कोर्ट के फैसले पर उनको एतराज है लिहाजा इसे ऊपरी अदालत में चुनौती देगी।

एक रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात सरकार 2013 के एक बलात्कार मामले में आसाराम की पत्नी, उसकी बेटी और उसके चार शिष्यों को बरी किए जाने को हाईकोर्ट में चुनौती देगी। इस मामले में आसाराम को आजीवन कारावास की सजा दी गई है। अदालत ने आसाराम की पत्नी लक्ष्मीबेन, बेटी भारती और उसके चार शिष्यों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया था, जिन पर अपराध को अंजाम देने में मदद का आरोप लगाया गया था।

Advertisement

गांधीनगर की अदालत ने 31 जनवरी को आसाराम को उसकी शिष्या द्वारा 2013 में दर्ज कराए गए बलात्कार के मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। स्पेशल पब्लिक प्रासीक्यूटर आरसी कोडेकर ने बताया कि 6 मई को लीगल डिपार्टमेंट ने एक प्रस्ताव पास करके कहा था कि फैसले के खिलाफ अपील की जाए।

पब्लिक प्रासीक्यूटर बोले- सरकार की मंजूरी का इंतजार

प्रासीक्यूशन ने गांधीनगर अदालत के 31 जनवरी के उस आदेश को चुनौती देने के लिए भी सरकार की मंजूरी मांगी है, जिसमें उसने सुझाव दिया था कि जोधपुर और अहमदाबाद मामलों में आसाराम को आजीवन कारावास की सजा साथ-साथ चलनी चाहिए। कोडेकर ने कहा कि इसके लिए सरकार की मंजूरी मिलने का इंतजार है। उसके बाद वो इस मामले में हाईकोर्ट जाकर अगला कानूनी कदम उठाएंगे।

Advertisement

जोधपुर जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा है आसाराम

गौरतलब है कि आसाराम 2013 में राजस्थान स्थित अपने आश्रम में एक नाबालिग लड़की से बलात्कार के अन्य मामले में वर्तमान में जोधपुर जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा है। अहमदाबाद के पास मोटेरा स्थित अपने आश्रम में 2001 से 2007 तक सूरत की रहने वाली एक शिष्या से कई बार बलात्कार करने के मामले में गांधीनगर की अदालत ने आसाराम को सजा सुनाई है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो