scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

जज पर दबाव डालने की कोशिश कर रहे राहुल गांधी, हुजूम के साथ आते हैं कोर्ट, पूर्णेश मोदी ने सेशन कोर्ट में भेजा अपना जवाब

पूर्णेश मोदी ने अपने जवाब में कहा कि जिस दिन कोर्ट ने राहुल गांधी को सजा सुनाई उस दिन कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता कोर्ट परिसर में मौजूद थे। वो अदालत के खिलाफ टिप्पणी भी कर रहे थे। बीजेपी नेता का कहना है कि राहुल गांधी की ये हरकतें बचकाना हैं।
Written by: shailendragautam
Updated: April 13, 2023 07:25 IST
जज पर दबाव डालने की कोशिश कर रहे राहुल गांधी  हुजूम के साथ आते हैं कोर्ट  पूर्णेश मोदी ने सेशन कोर्ट में भेजा अपना जवाब
प्रियंका गांधी के साथ सूरत के लिए रवाना हुए राहुल गांधी(फोटो- वीडियो ग्रैब/ Twitter)
Advertisement

सजा को चुनौती देने वाली राहुल गांधी की अपील पर बीजेपी के विधायक पूर्णेश मोदी ने गुजरात की कोर्ट में अपना जवाब दाखिल किया है। उनका कहना था कि सजा पर स्टे देना कोर्ट का हक है। लेकिन उन्हें नहीं लगता कि राहुल गांधी को किसी भी तरह की राहत अदालत से मिलनी चाहिए। उनके खिलाफ अवमानना के तकरीबन 10 मामले देश की अलग अलग अदालतों में चल रहे हैं। वो आदतन ऐसी हरकते कर रहे हैं।

पूर्णेश मोदी ने अपने जवाब में कहा कि जिस दिन कोर्ट ने राहुल गांधी को सजा सुनाई उस दिन कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता कोर्ट परिसर में मौजूद थे। वो अदालत के खिलाफ टिप्पणी भी कर रहे थे। बीजेपी नेता का कहना है कि राहुल गांधी की ये हरकतें बचकाना हैं। वो अदालत को दबाव में लेने की कोशिश कर रहे हैं। उनके भीतर बहुत ज्यादा अभिमान है। वो खुद से ऊपर किसी को मान ही नहीं रहे हैं। यहां तक कि अदालत को भी नहीं।

Advertisement

गुजरात की कोर्ट ने राहुल को सुनाई थी दो साल की सजा

राहुल गांधी को गुजरात की ही एक कोर्ट ने मानहानि के मामले में दो साल की सजा सुनाई थी। उन पर आरोप था कि उन्होंने मोदी समाज के खिलाफ टिप्पणी करके उनको आहत किया। बीजेपी के विधायक पूर्णेश मोदी से कोर्ट में ये केस दायर किया था। हालांकि एक बार उन्होंने अपनी अपील को रुकवा भी दिया था। लेकिन एक साल बाद वो अदालत के सामने फिर से गए और सारे मोदी चोर हैं मामले में सुनवाई की अपील की।

गुजरात की कोर्ट ने पूर्णेश की याचिका पर सुनवाई करके उनको दोषी माना और दो साल की सजा सुनाई। इसके बाद उनकी सांसदी भी चली गई। राहुल ने सजा के फैसले को चुनौती देते हुए सेशन कोर्ट में अपील की थी। उनकी अपील पर अदालत 13 अप्रैल को सुनवाई कर सकती है।

Advertisement

राहुल ने कहा था- मोदी सरनेम के लोग देश में 13 करोड़, सभी केस नहीं कर सकते

राहुल गांधी ने सजा के विरोध में कहा था कि उन्होंने सारे मोदी समाज को अपशब्द नहीं कहे। बल्कि उन्होंने नीरव मोदी, ललित मोदी और नरेंद्र मोदी... जैसे लोगों के खिलाफ बयान दिया था। वो विपक्ष के नेता हैं और उनका काम सरकार की आलोचना का है। उनका कहना था कि अगर उनके खिलाफ किसी को अपील करने का हक था तो ये केवल पीएम नरेंद्र मोदी को हैं। ऐसे तो मोदी समाज के लोग देश में 13 करोड़ हैं। वो सभी केस नहीं कर सकते।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो