scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

कैसे 5 लाख वोटों के अंतर से जीतें चुनाव? गुजरात BJP चीफ ने लगाई 'पाठशाला', नेताओं को दिए ये टास्क

गुजरात में बीजेपी का लक्ष्य सभी 26 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करना है। इसको लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं को टास्क दिए गए हैं।
Written by: Aditi Raja | Edited By: Nitesh Dubey
Updated: April 15, 2023 15:19 IST
कैसे 5 लाख वोटों के अंतर से जीतें चुनाव  गुजरात bjp चीफ ने लगाई  पाठशाला   नेताओं को दिए ये टास्क
गुजरात बीजेपी अध्यक्ष सीआर पाटिल (फोटो सोर्स: सोशल मीडिया)
Advertisement

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है। कई राज्य ऐसे हैं जहां बीजेपी सारी सीटों को जीतने पर जोर लगा रही है। इसमें गुजरात भी शामिल है, जहां बीजेपी का लक्ष्य सभी लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करना है। इसी क्रम में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल (Gujarat BJP president C R Paatil) ने वडोदरा में 'सोशल मीडिया पाठशाला' को संबोधित किया और 5 लाख वोटों से अधिक अंतर से जीत हासिल करने का मंत्र बताया।

वड़ोदरा के एक हॉल में एक घंटे का ओरिएंटेशन कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जिसमें एक हजार लोग शामिल हुए और इसे लाइव स्ट्रीम किया गया था। 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले जिस बड़े लक्ष्य पर चर्चा की गई थी, वह यह सुनिश्चित करना था कि भाजपा की समितियां 74 लाख घरों और 2.9 करोड़ मतदाताओं तक पहुंचें।"

Advertisement

बीजेपी का लक्ष्य है 5 लाख से अधिक मतों के अंतर से लोकसभा सीटें जीतना। संयोग से वडोदरा लोकसभा सीट पर बीजेपी पहले से ही ये काम कर चुकी है। 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) यहां से 5 लाख से अधिक वोटों से जीते थे। वड़ोदरा छोड़ने और वाराणसी लोकसभा सीट बरकरार रखने के बाद वड़ोदरा के लिए अक्टूबर में हुए उपचुनाव में फिर से भाजपा को बड़े अंतर से जीत मिली और पार्टी ने 2019 में भी यही दोहराया था।

दिसंबर 2022 के चुनावों में बीजेपी ने 156 सीटों के साथ गुजरात के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी जीत दर्ज की। सीआर पाटिल ने कहा, "भाजपा को प्रत्येक बूथ में प्रमुख जातियों और समितियों के साथ-साथ मतदाताओं के अन्य विवरणों से परिचित होना चाहिए। गुजरात में 1.45 करोड़ घर हैं। इनमें से हमने 71 लाख घरों से पेज कमेटी के सदस्य बनाए हैं, जिनमें 2.01 करोड़ मतदाता हैं। लेकिन हमें (2022 में) केवल 1.67 करोड़ वोट मिले हैं। अब हमारा लक्ष्य अधिक घरों तक पहुंचना है।"

Advertisement

सीआर पाटिल ने एक उदाहरण के रूप में नवसारी में अपने "ISO-certified" और "regularly audited" कार्यालय की तस्वीरें दिखाते हुए कहा कि कैसे तीन ऑपरेटर चुनावी डेटा के साथ स्क्रीन की निगरानी कर रहे हैं, अपडेट कर रहे हैं और जरूरत पड़ने पर सुधार कर रहे हैं। आगे उन्होंने कहा, "मेरे पास मेरे संसदीय क्षेत्र के 22 लाख मतदाताओं का डेटा मेरे फोन पर है। कलेक्टर की मतदाता सूची में संशोधन भले ही न हो, लेकिन मेरे रिकॉर्ड में जानकारी अपडेट है। अगर किसी व्यक्ति को किसी सरकारी योजना का लाभ मिला है तो वह भी अपडेट किया जाता है।"

Advertisement

सीआर पाटिल ने कहा कि उनके कार्यालय के रिकॉर्ड में भी मतदाताओं के व्यवसायों के विवरण हैं, जैसे कि वे सहकारी समितियों के सदस्य हैं या शिक्षक, व्यापारी, किसान, सामाजिक बुद्धिजीवी, लेखक या यहां तक ​​कि कुली भी हैं। सीआर पाटिल ने कहा कि उनके मतदाता दिन के 12.05 बजे स्वचालित जन्मदिन और शादी की सालगिरह की बधाई का संदेश प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से कॉल अटेंड करने और उन्हें लिखने की भी कोशिश करते हैं। सीआर पाटिल ने कहा कि वह अपनी सीट पर अपने दम पर रहने वाले कम से कम एक लाख मतदाताओं को फील गुड लेटर भेजते हैं और यह डेटा सिस्टम जादू है। जब आप चुनाव लड़ने के लिए इस तरह के विवरण के साथ जाते हैं, तो क्या कोई आपको हरा सकता है?

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो