scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'राहुल गांधी गए तो ड्रामा, आप गए तो महाड्रामा', पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष की मणिपुर यात्रा पर बोले मल्लिकार्जुन खड़गे

सीएम बीरेन सिंह ने भी आज राज्यपाल अनुसुइया उइके से मुलाकात की।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: June 30, 2023 16:22 IST
 राहुल गांधी गए तो ड्रामा  आप गए तो महाड्रामा   पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष की मणिपुर यात्रा पर बोले मल्लिकार्जुन खड़गे
कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (फोटो- द इंडियन एक्सप्रेस)
Advertisement

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों हिंसा प्रभावित मणिपुर के दौरे पर हैं। शुक्रवार को उन्होंने मोइरांग शहर में राहत शिविरों का दौरा किया और मणिपुर के राज्यपाल से मुलाकात की। राहुल गांधी की मणिपुर यात्रा पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जब अमित शाह जा सकते हैं तो विपक्ष के लोग वहां क्यों नहीं जा सकते?

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जब अमित शाह जा सकते हैं तो विपक्ष के लोग वहां क्यों नहीं जा सकते? अगर राहुल गांधी गए तो ड्रामा, आप गए तो क्या? महाड्रामा? आपको उनकी यात्रा के बारे में 4 दिन पहले ही पता था, तो आपने उनको सुरक्षा पहले क्यों नहीं दी?

Advertisement

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक व्यक्ति लोगों से उनके हालात समझने, कठिनाई जानने की कोशिश करता है उसे ड्रामा कहते हैं, यह आपकी तानाशाह वाली मानसिकता दिखाता है। वह विपक्ष को देश में सहन नहीं कर सकते। ऐसे विचारधारा वाले लोगों की निंदा करता हूं।

इस्तीफा नहीं देंगे सीएम बीरेन सिंह

वहीं, मणिपुर के मुख्यमंत्री सचिवालय और राजभवन से लगभग 100 मीटर दूर नुपी लाल कॉम्प्लेक्स में शुक्रवार को सैकड़ों महिलाएं एकत्र हुईं और पूर्वोत्तर राज्य में हुई हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह से इस्तीफा नहीं देने का आग्रह किया। सूत्रों ने बताया कि इंफाल में ऐसी अफवाहें जोरों पर हैं कि सिंह मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने पर विचार कर रहे हैं। हालांकि, मणिपुर सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री बीरेन सिंह इस्तीफा नहीं देंगे।

राहुल गांधी ने की राज्यपाल से मुलाकात

हिंसा प्रभावित पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर के दौरे पर आए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को बिष्णुपुर जिले के मोइरांग शहर में दो राहत शिविरों में गए। राहुल सुबह करीब साढ़ नौ बजे हेलीकॉप्टर से मोइरांग पहुंचे और हिंसा प्रभावित लोगों से मुलाकात की। राहुल गांधी के साथ मणिपुर के पूर्व मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह, पार्टी महासचिव (संगठन) के.सी. वेणुगोपाल, पीसीसी अध्यक्ष कीशम मेघचंद्र सिंह और पूर्व सांसद अजय कुमार थे।

Advertisement

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद कहा कि मणिपुर को शांति की जरूरत है। मैं राहत शिविर में गया और हर समुदाय के लोगों से मिला। राहत शिविरों में दवाई, खाने की कमी है जिस पर सरकार को ध्यान देना चाहिए। मेरी मणिपुर के हर व्यक्ति से अपील है कि शांति बनाए रखें। मैं यहां मौजूद हूं और जो शांति कि लिए कर सकता हूं वह करूंगा।

राहुल गांधी के काफिले को पुलिस ने रोका

पार्टी सूत्रों ने बताया कि राहुल गांधी दिन में इंफाल में कुछ बुद्धिजीवियों तथा नागरिक संगठनों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात करेंगे। राहुल ने बृहस्पतिवार को चुराचांदपुर में राहत शिविरों का दौरा किया था, जो जातीय दंगों से सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों में से एक है। चुराचांदपुर में राहत शिविरों के राहुल गांधी के दौरे को लेकर बृहस्पतिवार को उस वक्त नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिला, जब कांग्रेस नेता के काफिले को पुलिस ने बीच रास्ते में ही रोक दिया और उन्हें अपने गंतव्य तक हेलीकॉप्टर से जाना पड़ा।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो