scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Manipur News: 'चुप्पी विकल्प नहीं', NE के सीएम बोले- वीडियो अमानवीय, सिर्फ केंद्र ही दे सकता है सॉल्यूशन

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मणिपुर में दो महिलाओं को निर्वस्त्र करके घुमाने की घटना को देश के इतिहास में काला अध्याय बताया और केंद्र की भाजपा सरकार की आलोचना की।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: shruti srivastava
Updated: July 21, 2023 13:24 IST
manipur news   चुप्पी विकल्प नहीं   ne के सीएम बोले  वीडियो अमानवीय  सिर्फ केंद्र ही दे सकता है सॉल्यूशन
मणिपुर में दो महिलाओं को कुछ पुरुषों द्वारा एक वीडियो मे नग्न अवस्था में घुमाते हुए दिखाने के खिलाफ प्रदर्शन करतीं महिलाएं । (पीटीआई -फोटो)
Advertisement

मणिपुर में दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद देशभर में हंगामा मचा हुआ है। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने बृहस्पतिवार को कहा कि भीड़ द्वारा दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाने के मामले में उसने मणिपुर सरकार और राज्य के पुलिस प्रमुख को नोटिस जारी किये हैं। वहीं, दूसरी ओर NDA में भाजपा के सहयोगियों सहित पूर्वोत्तर की पार्टियों ने घटना की निंदा करते हुए सीएम एन बीरेन सिंह के नेतृत्व वाली राज्य सरकार से अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया।

मिज़ोरम के मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा, जो मिज़ो नेशनल फ्रंट से संबंधित हैं ने वीडियो को क्रूर, निर्दयी, जघन्य, घृणित और पूरी तरह से अमानवीय कहा। उन्होंने कहा, “पूरे क्षेत्र को मणिपुर की बड़ी समस्या के लिए एक स्थायी समाधान की आवश्यकता है, जिसे वास्तव में केवल केंद्र सरकार ही हल कर सकती है।

Advertisement

चुप्पी कोई विकल्प नहीं- मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा

सीएम ने कहा कि कई लोगों की जान चली गई है, हर तरफ खून-खराबा हुआ है, शारीरिक यातनाएं दी गई हैं और पीड़ित जहां भी संभव हो शरण की तलाश कर रहे हैं। मिजोरम सीएम ने कहा कि बिना किसी संदेह के वे पीड़ित मेरे परिजन और रिश्तेदार हैं, मेरा अपना खून है और क्या हमें चुप रहकर स्थिति को शांत कर देना चाहिए? मुझे ऐसा नहीं लगता, चुप्पी कोई विकल्प नहीं है।

मेघालय के सीएम ने कहा कि दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए

मेघालय के सीएम कोनराड संगमा जिनकी नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) भी एनडीए का हिस्सा है, उन्होंने कहा कि वह मणिपुर में हालिया घटना से बेहद परेशान हैं। किसी भी इंसान की गरिमा को छीनना सबसे अपमानजनक और अमानवीय कृत्य है। मैं ऐसी हरकतों की कड़ी निंदा करता हूं। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

Advertisement

मणिपुर के सांसद आर लोरहो फोज़े, जो भाजपा के मणिपुर गठबंधन सहयोगी नेशनल पीपुल्स फ्रंट से हैं, उन्होंने कहा कि राज्य मशीनरी विफल हो गई है और सीएम बीरेन सिंह को जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्हें नैतिक रूप से इस्तीफा दे देना चाहिए या उन्हें बर्खास्त कर देना चाहिए। एक वीडियो संदेश में टिपरा मोथा के संस्थापक प्रद्योत देबबर्मा ने कहा, “मुझे घिन आती है। अपने पूरे जीवन में, जब भी भारत में हमारी महिलाओं पर हमला किया गया या उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया, हम खड़े हुए हैं। हमने शेष भारत को हमेशा बताया है कि उत्तर पूर्व में ऐसा नहीं है। लेकिन जीवन में पहली बार मुझे शर्म आ रही है कि हमारे आसपास ऐसा हुआ है।”

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो